hal kaisa hai janab ka lyrics
  • Song Title: Haal Kaisa Hai Janab Ka
  • Movie : Chalti Ka Naam Gaadi 1958
  • Singer : Asha Bhosle, Kishore Kumar
  • Musician : Sachin Dev Burman
  • Lyricist : Majrooh Sultanpuri

Haal Kaisa Hai Janab Ka Lyrics in Hindi

हाल कैसा है जनाब का
क्या ख़याल है आप का
तुम तो मचल गए हो हो हो
यूँ ही फिसल गए हां हां हां

हाल कैसा है जनाब का
क्या ख़याल है आप का
तुम तो मचल गए हो हो हो
यूँ ही फिसल गए हां हां हां

बहकी बहकी चले है पवन
जो उडे है तेरा आँचल
छोडो छोडो देखो देखो
गोरे गोरे काले काले बादल
बहकी बहकी चले है पवन
जो उडे है तेरा आँचल
छोडो छोडो देखो देखो
गोरे गोरे काले काले बादल
कभी कुछ कहती है
कभी कुछ कहती है
ज़रा नज़र को सभालना
हाल कैसा है जनाब का
हाय क्या ख़याल है आप का
होय तुम तो मचल गए हो हो हो
हम्म हम्म यूँ ही
फिसल गए हां हां हां

पगली ा
पगली कभी तूने सोचा
रस्ते में गए मिल क्यों
पागल हैं पगले े
तेरी बातों बातों में
धड़कता है दिल क्यों

पगली ा
पगली कभी तूने सोचा
रस्ते में गए मिल क्यों
पागल हैं पगले े
तेरी बातों बातों में

धड़कता है दिल क्यों

कभी कुछ कहती है
कभी कुछ कहती है
ज़रा नज़र को सभालना
ा ा हाल कैसा है जनाब का
हाय क्या ख़याल है आप का
तुम तो मचल गए हो हो हो
यूँ ही फिसल गए हां हां हां
कहो जी कहॉ जी रोज़
तेरे संग यूँ ही
दिल बहलाएं क्या
सुनो जी सुनो जी समझ
सको तो खुद समझो
बताएं क्या
कहो जी कहॉ जी रोज़
तेरे संग यूँ ही
दिल बहलाएं क्या
सुनो जी सुनो जी समझ
सको तो खुद समझो
बताएं क्या
कभी कुछ कहती है
कभी कुछ कहती है
ज़रा नज़र को संभालना
हाय हाल कैसा है जनाब का
क्या ख़याल है आप का
तुम तो मचल गए हो हो हो
यूँ ही फिसल गए हां हां हां

हाल कैसा है जनाब का
क्या ख़याल है आप का
तुम तो मचल गए हो हो हो
यूँ ही फिसल गए हां हां हां

हाल कैसा है जनाब का
क्या ख़याल है आप का
तुम तो मचल गए हो हो हो
यूँ ही फिसल गए हां हां हां.

Haal Kaisa Hai Janab Ka Lyrics in Hindi

Haal kaisa hai janaab kaa
Kya khayaal hai aap kaa
Tum to machal gaye ho ho ho
Yun hi fisal gaye haa haa haa

Haal kaisa hai janaab kaa
Kya khayaal hai aap kaa
Tum to machal gaye ho ho ho
Yun hi fisal gaye haa haa haa

Bahaki bahaki chale hai pawan
Jo ude hai tera aanchal
Chhodo chhodo dekho dekho
Gore gore kaale kaale baadal
Bahaki bahaki chale hai pawan
Jo ude hai tera aanchal
Chhodo chhodo dekho dekho
Gore gore kaale kaale baadal
Kabhi kuchh kahati hai
Kabhi kuchh kahati hai
Zara nazar ko sabhalna
Haal kaisa hai janaab kaa
Haay kya khayaal hai aap kaa
Hoy tum to machal gaye ho ho ho
Hmm hmm yun hi
Fisal gaye haa haa haa

 

Pagali a
Pagali kabhi tune socha
Raste mein gaye mil kyon
Pagale han pagale e
Teri baaton baaton mein
Dhadkta hai dil kyon

Pagali a
Pagali kabhi tune socha
Raste mein gaye mil kyon
Pagale han pagale e
Teri baaton baaton mein
Dhadkta hai dil kyon

Kabhi kuchh kahati hai
Kabhi kuchh kahati hai
Zara nazar ko sabhalna
Aa aa haal kaisa hai janaab kaa
Haay kya khayaal hai aap kaa
Tum to machal gaye ho ho ho
Yun hi fisal gaye haa haa haa
Kaho ji kaho ji roz
Tere sang yun hi
Dil bahalaayen kya
Suno ji suno ji samajh
Sako to khud samajho
Bataaen kya
Kaho ji kaho ji roz
Tere sang yun hi
Dil bahalaayen kya
Suno ji suno ji samajh
Sako to khud samajho
Bataaen kya
Kabhi kuchh kahati hai
Kabhi kuchh kahati hai
Zara nazar ko sambhalna
Haay haal kaisa hai janaab kaa
Kya khayaal hai aap kaa
Tum to machal gaye ho ho ho
Yun hi fisal gaye haa haa haa

Haal kaisa hai janaab kaa
Kya khayaal hai aap kaa
Tum to machal gaye ho ho ho
Yun hi fisal gaye haa haa haa

Haal kaisa hai janaab kaa
Kya khayaal hai aap kaa
Tum to machal gaye ho ho ho
Yun hi fisal gaye haa haa haa.

By Mayank

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *